कौन है बड़ा Business Group? | Tata Group Vs Reliance Group | Fully Explained

Tata Group Vs Reliance Group

Tata Group Vs Reliance Group: टाटा और अंबानी ग्रुप के बीच में जबरदस्त प्रतिस्पर्धा चल रही है। खुले में तो भाई साहब की कोई नजर नहीं आती, लेकिन अंदर ही अंदर इतनी खतरनाक लड़ाई चल रही है कि जिस सेगमेंट में टाटा जी एंटर करते हैं, मोटा भाई उसी स्थान पर पहुंच जाते हैं। और यह जितना ज्यादा हो रहा है, वह रिटेल सेक्टर में। अगर टाटा ग्रुप स्टारबक्स के साथ टाई-अप करता है, तो मोटा भाई प्रेट मंगर को लेकर आ जाते हैं। टाटा ग्रुप इलेक्ट्रॉनिक्स क्रोमा ब्रांड के अंदर भेजते हैं, तो मोटा भाई रिलायंस डिजिटल को लेकर आते हैं। टाटा ग्रुप के पास अगर वेस्टसाइड और जुडिओ है, तो मोटा भाई ट्रेंड्स को लेकर आ गए और फिर फ्यूचर ग्रुप को खरीद लिया।

ऐसे नहीं, कई ब्रांड हैं जो आमने-सामने खड़े हैं। हालात यह हैं कि इंडिया की प्रीमियम रिटेल स्पेस में इन दोनों के ब्रांड बड़ी ही जगह बना चुके हैं। किसी भी नए मॉल में, 50% से अधिक बुकिंग इन दोनों ग्रुप की मिली होती है, बाकी ब्रांड को जगह ही नहीं मिलती।

तो देखिए, यहाँ पहले बात करें तो आपको पता होना चाहिए कि कौन से ग्रुप कितने ब्रांड्स लेकर बैठे हैं, कितने स्टोर्स हैं, और वे कहाँ-कहाँ मौजूद हैं। रतन टाटा जी ने तो अपनी मजबूती से दिलों पर राज किया है, और मुकेश अंबानी के दिमाग की भी बड़ी खासियत है।

कौन सा ग्रुप कहाँ है?

अब बात करें कि कौन सा ग्रुप कहाँ है: कंपटीशन के लिए दोनों कोर सेक्टर में नहीं हैं। टाटा ग्रुप के कोर सेक्टर की बात करें तो, उनके कोर विभाग आउटो, स्टील, आईटी सर्विसेज, एयरलाइन्स, और होटल्स में आते हैं। इन सभी सेक्टर्स में अंबानी जी के कोई ब्रांड नहीं हैं। अंबानी जी का कोर सेक्टर ऑयल, केमिकल, और टेलीकॉम है।

इसके अलावा, टाटा ग्रुप रिटेल स्पेस में बहुत पहले से हैं। उनका मुख्य ब्रांड टाइटन 1980 में शुरू हुआ था। उनके पास अब 4600 स्टोर्स हैं और उनकी कुल रिटेल स्पेस 25 मिलियन स्क्वायर फुट है। उनके मेजर ब्रांड्स कुछ इस प्रकार हैं।

तो सबसे पहले शुरुआत करते हैं, ऐप से टा ग्रुप के पास एक ऐप है TATA Neu ग्रुप कहता है कि यह एक सुपर ऐप है। इस ऐप में हम सभी सुविधाएं देंगे, और जो भी सुविधा दी जा रही है, सभी खुद की कंपनियों के माध्यम से ही दी जा रही है। और इसके सामने यहां पर मोटा भाई खड़े हैं। MY Jio में टाटा ग्रुप कहता है कि अगर आपको ग्रोसरी शॉपिंग करनी है तो हमारे थ्रू कर लो, हमारी कंपनी है बिग बास्केट। तो मोटा भाई पूछते हैं कि क्या तुम्हारे पास बिग बास्केट है? तो क्या हुआ, हमारे पास भी Jio Mart है। और ऑनलाइन लेना है तो Jio Mart और ऑफलाइन जाना है तो हमारे पास भी पास है।

Tata Group Vs Reliance Group

Reliance Fresh है टाटा ग्रुप कहता है इलेक्ट्रॉनिक लेना है तो आ जाओ क्रोमा स्टोर में। मोटा भाई कहते हैं मेरे पास रिलायंस डिजिटल है। टाटा ग्रुप कहता है अगर आपको फार्मसी में दवाई का काम है तो हमें बताओ, हमारे पास है टाटा 1mg। तो मोटा भाई कहते हैं हमने भी तो नेट मेड्स खरीद रखा है। ज्वेलरी की बात करें तो Tata ग्रुप बोलता है हमारे पास है तानिष्क, बहुत पुराना और बहुत पॉपुलर ब्रैंड। तो मोटा भाई कहते हैं रुको जरा, सब्र करो। 2018 में हमने भी लॉन्च कर दिया Reliance Jewels, अब 100 से ज्यादा स्टोर्स हैं, धीरे-धीरे इसे भी बढ़ाएंगे। बात आती है ऑनलाइन कपड़े खरीदने की, तो Tata ग्रुप कहता है tata क्लिक करके हमारे पास प्रोडक्ट्स हैं।

आप ऑनलाइन कपड़े खरीदो कोई टेंशन नहीं है। तो मोटा भाई कहते हैं हम खाली थोड़ी बैठे हैं AJIO किसका हमारा, जिवामे किसका हमारा, हमसे ही ले लो कपड़े। बात आती है कि इतनी सारी चीजें ऑनलाइन खरीदोगे तो पेमेंट कैसे करोगे, तो Tata ग्रुप कहता है tata पे यूपीआई है उससे कर दो। तो मोटा भाई कहता हैं हमारे पास भी तो Jio Money है।

मोटा भाई के पास 100 से ज्यादा ब्रांड हैं: Tata Group Vs Reliance Group

अब इतने सारे ब्रांड और इतना कंपटीशन सुनकर, अगर आपका माथा घूम रहा है कि अरे जी यार, इतनी सारी चीजें हमने सोची नहीं थी कि टाटा और अंबानी ग्रुप सामने खड़े हैं, हमारा तो सर चकरा रहा है। कॉफी पीने आप चले जाओ स्टारबक्स में, वो tata ग्रुप का है। तो मोटा भाई ने कहा अच्छा, तुम टा ग्रुप ने स्टारबक्स से टैप कर लिया, तो हम भी एक ब्रिटिश कंपनी प्रेट मंगर से टैप कर लेते हैं, तो कॉफी उसके पियो, सैंडविच हमारे यहां खाके जाना। बात आती है ऑनलाइन कपड़े की, तो इन्होने कहा अगर ऑफलाइन खरीदना हो तो टाटा ग्रुप बोले हमारे पास है वेस्ट साइट। तो मोटा भाई बोले तुम्हारी कंपटीशन के लिए हमने खोला है Reliance Trend। तो टाटा ग्रुप बोलता हैं हम सस्ते में जाते हैं, हम लाएंगे Judio, तो मोटा भाई ने कहा हम लेके आते हैं YOUSTA करके और PREMARK करके एक UK की कंपनी को लाएंगे इंडिया।

आपको जानकर खुशी होगी कि भारत में ZARA ग्रुप के लिए टाटा एक बड़ा फायदा है। जारा के स्टोर भारत में बहुत अच्छा कारोबार करते हैं और ये स्टोर टाटा ग्रुप द्वारा संचालित होते हैं। इसलिए, टाटा ने कहा, “हम खुद के ब्रांड और लेके आ रहे हैं, इसके लिए हमें मार्क एंड स्पेंसर के साथ तुलना की जानी चाहिए”। यहां तीनों ब्रांड में कुछ आम चीजें देखने को मिलती हैं, लेकिन टाटा ग्रुप का सामर्थ्य विदेशी ब्रांडों के साथ भी मुकाबला करता है।

मनीष मल्होत्रा, ऋतु कुमार, राघवेंद्र राठौड़, और अबू जानी संदीप खोसला

मोटा भाई के पास 100 से ज्यादा ब्रांड हैं, जैसे कि अमेरिकन ब्रांड डीजल, इटलियन ब्रांड अरमानी, जर्मन ब्रांड ह्यूगो बॉस, और लग्जरी ब्रांड तनिष्क, तिफनी, और जिमी चू। उनके पास विभिन्न उत्कृष्ट डिजाइनर्स के ब्रांड भी हैं, जैसे कि मनीष मल्होत्रा, ऋतु कुमार, राघवेंद्र राठौड़, और अबू जानी संदीप खोसला। इसके अलावा, उनके शूज, फर्नीचर, और अन्य उत्पादों की विशेषता है।

मुंबई में, मोटा भाई और टाटा ग्रुप के स्टोरों की बात करें, तो दोनों ही ग्रुप बड़ी जगह दावेदार हैं। मोटा भाई ने अपने स्वयं के मॉल शुरू किए हैं और इससे वे अपने ब्रांड को बेहतर तरीके से प्रमोट कर रहे हैं। इससे उनके विपणन और बिक्री को भी फायदा हो रहा है। इसके बावजूद, टाटा ग्रुप भी बड़े पैम्पर्स लोकेशन्स पर अपनी पहुंच बढ़ा रहा है।

इस तरह, दोनों ग्रुप बाजार में अपना अच्छा खंड बनाए रख रहे हैं और भारतीय उपभोक्ताओं को विविध और उत्कृष्ट विकल्प प्रदान कर रहे हैं।

दोनों ग्रुप्स को कंबाइन करें तो 17.5 करोड़ स्क्वायर फुट की जगह से अधिक है

यहां इंटरनेशनल लग्जरी टिफनी और कंपनी इंडिया में दिखाई दी रही हैं। मोटा भाई, जिमी चू के बारे में बात कर रहे हैं, जो की बंसिया का हैं, जो की एक लाख की शर्ट्स बेच रहे हैं। उन्होंने भारत में इसकी एंट्री की है। वर्षा चे के मोटा भाई भी भारत में उपस्थित हैं। इसके अलावा, किसी भी मॉल में बच्चों के खिलौनों की दुकान होती है, हेलीज मोटा भाई की है। यदि आप फर्नीचर खरीदने जाते हैं तो अर्बन लेडर भी मोटा भाई का है। बिग बाजार और सेंट्रल मॉल में भी इसके प्रोडक्ट्स उपलब्ध हैं। इन सबसे, आपको पता चल गया होगा की मोटा भाई के पास 18000 स्टोर्स हैं।

अब, आप सोचिए, अगर हम इन दोनों ग्रुप्स को कंबाइन करें तो 7.5 करोड़ मोटा भाई के ढाई करोड़ स्क्वायर फुट जगह होगी, जो की ताता ग्रुप के 10 करोड़ स्क्वायर फुट की जगह से अधिक है। मुंबई में, ये दोनों ग्रुप्स बड़े प्राइम लोकेशन्स पर हैं। जब भी कोई नया मॉल खुलता है, तो आधा मॉल ताता ग्रुप को और आधा मॉल मोटा भाई को ले जाता है। मोटा भाई ने इससे बचने के लिए अपने खुद के मॉल शुरू किए हैं, जैसे की jio1 ड्राई मॉल, जहां आपका Apple Store भी है।

Join Our Whatsapp GroupClick Here
Join Our facebook PageClick Here

फ़ायदों की दुनिया खोलें! ज्ञानवर्धक समाचारपत्रिकाओं से लेकर वास्तविक समय में स्टॉक ट्रैकिंग, ब्रेकिंग न्यूज़ और व्यक्तिगत न्यूज़फीड तक – यह सब यहाँ है, बस एक क्लिक की दूरी पर! हमारे साथ rojki news पर !

Prince Ranpariya

View all posts

Add comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *